ल – अक्षर से पर्यायवाची शब्द

अक्षर से पर्यायवाची शब्द निम्नलिखित हैं. 
  • लक्ष्य- उद्देश्य, ध्येय, मंजिल, निशाना, ठिकाना, गंतव्य. 
  • लक्ष्मी- रमा, श्री, हरिप्रिया, कमला, पद्मा, पद्मासना, समुद्रजा, भार्गवी, सिंधुसुता, इंदिरा, क्षीरोद. 
  • लक्ष्मण- रामानुज, लखन, सुमित्रापुत्र, शेषावतार, शेष, सौमित्र, अनंत. 
  • लग्न- नत्थी, सम्बद्ध, संलग्न, संयुक्त. 
  • लगातार- निरंतर, बराबर, अविराम, सदा, सर्वदा. 
  • लघु- छोटा, थोड़ा, न्यून, हल्का. 
  • लता- लतिका, बेल, बल्ली, बल्लरी. 
  • लज्जा- हया, लाज, शर्म, संकोच, व्रीड़ा. 
  • ललित- मनोहर, दिलकश, रमणीय, मनभावन, मनोज. 
  • लाभ- नफा, फायदा, मुनाफा, प्राप्ति. 
  • लहर- लहरी, तरंग, हिलोरी, वेग, प्रवाह, ऊर्मि, वीचि. 
  • लाचार- बेचारा, बेबस, मजबूर, बाध्य, विवश, निरीह, निरूपाय. 
  • लापरवाह- बेपरवाह, चिंतामुक्त, विमुख, बेफिक्र. 
  • लापरवाही- बेखबरी, बेसुधी, बेफिक्री. 
  • लुप्त- गुम, गायब, अदृश्य, अप्रकट, अन्तर्ध्यान. 
  • लाल- सुर्ख, रक्तिम, रक्ताभ, सूर्य, लोहित, अरुण. 
  • लालसा- लालच, लोभ, अभिलाषा, लिप्सा, तृष्णा. 
  • लौ- लपट, अग्निशिखा, ज्वाला. 
  • लोहा- लौह, सार, आयस, फौलाद, अश्मसार. 
  • लुटेरा- डाकू, डकैत, अपहर्ता, बटमारा, लुण्ठक. 
पर्यायवाची शब्द किसे कहते हैं
Synonym को हिंदी भाषा में पर्यावाची या समानार्थी कहते हैं. हिंदी भाषा में भी कुछ शब्द ऐसे होते हैं जिन का अर्थ दूसरे शब्द के लगभग समान अर्थ होते हैं उसे Synonym Word यानी पर्यावाची शब्द कहते हैं. पर्यावाची शब्द का परिभाषा – समान अर्थ रखने वाले शब्दों को पर्यायवाची शब्द कहते हैं. उदाहरण के तौर पर अनुपम का मतलब अनोखा होता है और आदित्य का मतलब यूनिक होता है. अनुपम एवं आदित्य के लगभग समान अर्थ हैं इसलिए यह दोनों शब्द पर्यायवाची शब्द है. 
पर्यायवाची शब्दों का ज्ञान क्यों आवश्यक है?
लेखन में लगातार एक ही शब्द का प्रयोग करने से लेखन उबाऊ हो जाता है. जिससे पढ़ने वाले को नयापन नहीं लगता है. पढ़ने वाले की दृष्टि से अगर उसे पर्यायवाची शब्द का सही मतलब समझ में आएगा तो भाषा की समझ बेहतर हो जाती है. भाषा की सुंदरता एवं आदित्यता बनाए रखने के लिए पर्यायवाची शब्द का प्रयोग आवश्यक माना होता है. लेकिन इसका प्रयोग ध्यान पूर्वक करना चाहिए. उचित शब्दों का चयन करना अति आवश्यक होता है.

Similar Posts